Gand Chudai Ki Kahani 2 ऑफिस की लड़की की गांड चुदाई की कहानी भाग – 2

Gand Chudai Ki Kahani 2 ऑफिस की लड़की की गांड चुदाई की कहानी भाग – 2

This entry is part in the series Office Me Ladki Ki Chudai

पिछला भाग पढ़े:- Gand Chudai Ki Kahani

नमस्ते पाठकों, Gand Chudai Ki Kahani 2 इस भाग को पढ़ने से पहले पिछला भाग ज़रूर पढे।

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम अमरजीत हैं और आपकी सेवा में फिर से हाजिर Hindi X Story लेकर।

आप सब जानते हैं कि मैं एक कॉलबॉय हूं और अपनी Real Hindi Sex Stories पोस्ट करता हूं तो अपनी एक सच्ची कहानी के साथ हाजिर हूं। 

मेरी उम्र 29 है और मेरे लंड का साइज़ 6 इंच है, देखने में मैं स्मार्ट और लंबा हूँ, ऊंचाई 6 फीट है। 

तो अब कहानी पर आते हैं जिसके आखिरी भाग में मैंने आपको बताया कि कैसे सोनी की जींस उतार दी। 

अब आगे. 

तो दोस्तो सोनी की जीन्स उतार कर देखा तो उसकी पैंटी पूरी गिली थी। तो मैंने उसके पेट को चूमा और चूत को धीरे-धीरे नीचे किया और उसकी जांघों को चूसने लगा और उसके पूरे पैर को दबाने और चूसने लगा। 

वो मज़े से बस सिसकियाँ भर रही थी अहा अहा अहा अहा अहा अहा अहा…फिर मैंने उसकी पिंडलियों को हल्के-हल्के काटने लगा और चूमने लगा। 

सोनी तो बस पागल सी हो गई वो ऊपर भात गई और मेरे सर को पकड़कर दबाने लगी। फिर मैं धीरे से ऊपर आया और उसकी पैंटी को पकड़ कर उतार दिया। 

बिल्कुल साफ सेव चूत थी उसकी बिल्कुल सील पैक दोनों होठ आपस में जुड़े हुए और हल्की सी ब्राउन। ( Gand Chudai Ki Kahani 2 )

उसमें से पानी निकलता है। मैंने धीरे से उसकी चूत को छुआ तो सोनी ने एक डैम से मेरे कंधे को पकड़ लिया और नोचने लगी अहा अहा… विराट अहा बहनें क्या कर रहे हो अहा… मर गई अहा और बहुत तेज़ तेज़ चिल्लाने लगी..

फिर मैंने उसको पिच किया और उसकी टांगे उठा कर अपने कंधे पर रख ली और धीरे से उसकी चूत को अपनी जीभ से छुआ। 

तो वो एक दम बिस्तर को जोर से पकड़ लिया और बहुत तेज सिसकियाँ लेने लगी… अहा सिसकियाँ और अपने सर को तकिये के ऊपर इधर उधर पटकने लगी.. और जोर जोर से सिसकियाँ लेने लगी। 

सोनी-अहा विराट क्या कर रहे हो आप ये मैं मर जाउंगी अहा विराट…

तब तक मैं उसकी चूत को चाटने लगा था और वो बस मस्ती में पागल हो रही थी।

मैंने अपने हाथ से उसकी चूत के पंकुदियों को धीरे से खोला तो अंदर से बिल्कुल गुलाबी चूत थी उसकी। 

मैंने उसकी चूत के अंदर जीभ डाल दी जिससे वो बहुत जोर से चीख पड़ी मज़े से। सोनी- आहा मर गई विराट आराम से आहा…

बाहर से उसकी दोस्त ने पूछा क्या हुआ चिल्ला क्यों रही है आराम से कोई सुन ना ले… तब उसने अपने मुँह पर तकिया रख लिया और जोर जोर से सिसकियाँ भरने लगी। ( Gand Chudai Ki Kahani 2 )

मैं उसकी चूत को अंदर डालकर गोल गोल घुमाने लगा और वो अपने हाथों को बुरी तरह पटकने लगी और मज़े से पागल होने लगी। 

उसकी चूत की गर्मी से मेरा लंड भी खड़ा हो गया था। 10 मिनट उसकी चूत चटनी के बाद वो बिल्कुल अकड गयी 

और अपनी टैंगो से मेरा मुँह अपनी जांघों में दबा लिया और बहुत जोर से झड़ने लगी और चीखने लगी अहा… मर गयी मैं बस करो जान लोगे क्या मेरी हटो…

मैं सोनी के ऊपर से हटकर साइड में लेट गया और वो जोर जोर से हाफ रही। थोड़ी देर आराम करने के बाद वो उठकर जाने लगी। 

मेने पूछा कहां जा रही? तब वो मेरा हाथ पकड़ कर बोलि चलो। फिर हम दोनो भटरूम गए और सोनी ने अपनी चूत को साफ किया और फिर मुझे वहीं पर किस करने लगी। 

Gand Chudai Ki Kahani 2

तब मैंने पूछा अब क्या इरादा है मैडम। सोनी-इरादा तो कुछ नेक है पर थोड़ा डर लग रहा पहली बार कैसा होगा। अभी तक मैंने अपनी गांड में उंगली भी नहीं डाली, कभी तो थोड़ा डर लग रहा है।

मुझे डरने की कोई जरूरत नहीं है पहली बार होता है थोड़ा देखो ऐसे बोलू थोड़ा दर्द तो होगा। बाकी आपकी मर्जी है पर मजा लेना है तो थोड़ा दर्द तो सहना ही होगा। 

उसके बाद तो मजा ही मजा. ऐसे ही बातें करते करते हम बाहर आ गए बाथरूम से और बिस्तर तक आ गए फिर 

मैंने बिस्तर पर बैठ कर सोनी को अपने भगवान के पास बैठाया और उसकी बॉडी को प्यार से सहलाने लगा तो वो मेरी तरफ से मुँह करके मेरे होठों को चूसने लगी, 

और मेरी दोनों चुचियों को हाथ से मसलने लगा और उनके निप्पलों को थोड़ा दबाने लगा जिससे वो गरम होने लगी। ( Gand Chudai Ki Kahani 2 )

फिर मैंने उसे थोड़ा तेल लेने को कहा, आओ उठकर बाहर अपने दोस्त के पास चली गई और थोड़ा तेल लेकर आई। 

मुझे बिस्तर पर उल्टा लिटा दिया और उसकी दोनों जोड़ी बिस्तर से नीचे थीं। फिर मैंने उसकी चूत को चटना शुरू किया तो वो फिर से मज़े से पागल होने लगी। 

थोड़ी देर चूत चाटने के बाद मैंने उसकी गांड पर तेल डाला और उंगली से धीरे-धीरे सहलाने लगा। उसे थोड़ा मजा आने लगा और सोनी सिसकियाँ भरने लगी अहा म्म्म्मुह्ह अहा…

मैंने धीरे से उसकी गांड में थोड़ी थोड़ी उंगली करने लगा तो वो थोड़ा कसमसाने लगी।

ऐसे ही थोड़ी महंत के बाद मेरी एक उंगली उसकी गांड में चली गई। जिसे मैं धीरे-धीरे अंदर बाहर करता रहा और पूंछ को उसकी गांड पर डालता रहा। 

थोड़ी देर कसमसाने के बाद उसको भी थोड़ा अच्छा लगने लगा। फिर मैंने अपने लंड पर बहुत अच्छे से तेल लगाया और उसको पूरा तेल मैंने भीग दिया और उसकी कमर को चूमते-चूमते उसके ऊपर आ गया। 

फिर उसके दोनो चुचियो को अपने हाथों से पकड़ लिया और धीरे धीरे दबाने लगा। और लंड को उसकी गांड पर लगाकर सहलाने लगा। 

वो धीरे धीरे सिसकियाँ भरने लगी। मैंने थोड़ा जोर लगाया तो वो हल्की सी चीख पर मैं उसकी गर्दन को चूम रहा था। और उसकी चुचियों को दबा रहा। 

फिर मुझे लगा अब मेरा लंड उसकी गांड पर अच्छे से सेट है तो अब थोड़ा जोर लगाना चाहिए। तो मैंने उसके मुँह को थोड़ी एक तरफ करके उसके होठों को चुराने लगा। ( Gand Chudai Ki Kahani 2 )

जिसकी चीख बाहर ना निकले और अपना थोड़ा वजन उस पर डाल दिया जिसने वो जायदा हिले नहीं।

फिर मैंने थोड़ा जोर लगाया तो लंड का टोपा अंदर चला गया और वो मुँह से गु गु की आवाज़ निकालने लगे और मेरे नीचे से छटपटाने लगी।

दोस्तो Hindi Sex Stories with Pictures थोड़ी लंबी हो गई है लेकिन आपको मजा आएगा आगे कोई भाभी लड़की आंटी कॉलबॉय सारी जानकारी चाहिए तो South Ex Escorts क्लिक करें ।

Series Navigation<< Gand Chudai Ki Kahani ऑफिस की लड़की की गांड चुदाई की कहानी भाग -1Gand Chudai Ki Kahani 3 ऑफिस की लड़की की गांड चुदाई की कहानी भाग – 3 >>

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *