बिल्डिंग की लिफ्ट में Padosi Se Gand Chudai » Gay Poan

बिल्डिंग की लिफ्ट में Padosi Se Gand Chudai » Gay Poan

हेलो दोस्तों, आप पढ़ रहे है Hindi Gay Sex Stories
मैं दिल्ली में रहता हूँ , और यहाँ लाइट की प्रॉब्लम आम बात है।

तो चलिए समय न बर्बाद करते हुए बिल्डिंग की लिफ्ट में Padosi Se Gand Chudai की कहानी शुरू करते है।

दौड़ के हम दोनो लिफ्ट के अंदर आ गए। बाहर बारिश हो रही थी,
और हम काफी भीग भी गए थे। रात के दो बज गये थे।
लिफ्ट टॉप फ्लोर पर चली गई, क्योंकि वही मेरा कमरा था।

ऊपर जाने से पहले ही लाइट चली गई, और ऊपर और दूसरे फ्लोर के बीच में लिफ्ट रुक गई। 

हम दोनो अकेले लिफ्ट में बंद हो गए। हमने काफ़ी इंतज़ार किया, पर लाइट नहीं आई। 

डर के मारे मैंने आदिल का हाथ पकड़ लिया। 

आदिल एक हट्टा-कट्टा, रोज़ जिम जाने वाला और एक Gay Poan हॉट बंदा था।

पहले दिन से ही मैं उससे मरता था, और उसको ये बात पता थी।
मौके के फैदा उठते हुए आदिल ने मुझे गले लगा लिया और कहा-

आदिल: डर मत डार्लिंग, मैं हूं ना। ( Padosi Se Gand Chudai )

ऐसा बोल के उसने मेरे सर पर हाथ घुमाया और कस कर मुझे गले लगा लिया। हम काफी भीग चुके थे, 

और इसलिए ठंड के कारण मैं काम कर रहा था। गले लगाते ही आदिल का लंड पैंट के ऊपर से ही मुझे नीचे महसूस हुआ।

उसका लंड काफी बड़ा लग रहा था और मुझे छू रहा था। ये सब होते ही मेरा लंड भी तन गया। 

और आदिल को भी मेरा लंड महसूस हुआ, तो उसने मौके का फ़ायदा उठाया।

आदिल: ठंड लग रही है क्या?

मुख्य: हा.

आदिल: शर्ट उतार दे. गीली टी-शर्ट ज्यादा देर तक मत रख।

मैं शर्मा गया. मेरी शर्म दूर करने के लिए उसने अपनी टी-शर्ट उतार दी।

आदिल: शर्मा मत। मैंने अपनी टी-शर्ट उतार दी। तुझे ठंड लग जायेगी।

इतना कहते ही उसने मेरी टी-शर्ट पर हाथ रखा और उसे उतारने लगा। मैं उसको मना नहीं कर पाया। 

अब हम दोनो ऊपर से कुछ नहीं पहनने वाले थे। फ़िर आदिल मेरे करीब आया. 

मैं पीछे जाने लगा. वो और करीब आया. ऐसा करके लिफ्ट के कोने में मैं खड़ा हो गया।

मैं: ये क्या कर रहे हो आदिल?

आदिल: तुझपे प्यार आ रहा है।

इतना कहते ही उसने मेरे गले को आगे से पकड़ कर पीछे लिफ्ट पर दबा दिया, और मेरे हांथ चुमने लगा।  ( Padosi Se Gand Chudai )

पहले मेरा सर लिफ्ट से टकराया, और उसकी पकड़ से मेरा गला दर्द करने लगा। पर उसने जैसे ही मेरे होठों को चूसना शुरू किया,
मैं सब भूल गया। और यहाँ नीचे मेरा लंड खड़ा हो गया था।

उसने एक हाथ से मेरे निप्पल को दबाया और बड़ी बेरहमी से मुझे मसलने लगा। मुझे अब दर्द हो रहा था, तो मेरे मुँह से चीख निकल गयी। 

उसने मेरे गले हो किस करना शुरू किया। नीचे से मुझे उल्टा करके मेरा मुँह लिफ्ट के कोने पर दबा दिया, 

और नीचे से मेरी पीठ पर किस करने लगा और अपने नाकों से खरोंचने लगा।

उसने पीछे से मेरी पैंट का बेल्ट खोला और फिर मेरी पैंट का बटन खोला। फिर पैंट पकड़ कर ज़िप को इतने ज़ोर से खींचा कि ज़िप टूट गई। 

आदिल ने फिर एक हाथ के दो उंगलियां मेरे मुंह में डाली और दूसरा हाथ झटके से मेरी चड्डी के अंदर डाल दिया।

उसका हाथ मेरे खड़े लंड को छूता हुआ मेरे टैटू पर चला गया। उसने अपनी उंगलियों से मेरे मुँह को चोदना शुरू किया, 

और यहाँ नीचे एक हाथ से मेरी दोनों गेंदों को कस कर दबाया। मेरी तो जान ही निकल गयी थी। मैं चीख नहीं पा रहा था, 

पर मेरी आँखों से पानी निकल गया। फिर आदिल ने अपनी पकड़ ढीली की, और मेरी तरफ देखा।

आदिल: तू तो अभी से रो दिया। तुझे तो खूब पेलूंगा। रात भर नंगा करके चोदूंगा।

आदिल की बातें सुन के मुझे पता नहीं क्यों बहुत अच्छा लगने लगा। आदिल की धड़कन उसे ये सब बुला रही थी। 

उसने फिर मेरी पैंट को नीचे खींच लिया, और कहा-

आदिल: उतार इसको भड़वे।

वैसे तो मुझे गलियाँ पसंद नहीं, पर आदिल के मुँह से मेरे लिए गलियाँ सुनकर मुझे बहुत दुख मिलता है। 

मैंने अपनी पैंट उतारी, इसमें आदिल ने खुद की भी उतार दी। उसकी चड्डी के अंदर से उसका लंड साफ तना हुआ दिख रहा था।

लिफ्ट के अंदर थोड़ा अंधेरा था, इसलिए साफ-साफ नहीं देख पा रहा था। उसने मेरी चड्डी को एक कोने को पकड़ा, 

और एक झटके में खींच के नीचे निकाल दिया और मैंने अपने जोड़ों से चड्डी को उतार फेंका। ( Padosi Se Gand Chudai )

अब मैं आदिल के सामने बिलकुल नंगा था। मेरा लंड उसके सामने खड़ा हो गया। उसने कस्स के मेरे लंड को पकड़ा, 

.और उसकी तरफ से मुझे खींचा। मुझे लंड के खींचने से दर्द हुआ, पर मुझे क्या पता था कि ये सिर्फ ट्रेलर था, 

और फिल्म अभी बाकी थी। फिर उसने मुझे कहा-

आदिल: आजा मेरी रानी, ​​तुझे लंड का स्वाद दिलाता हूँ।

मैंने मना किया तो कस कर मेरे मुँह पर एक तमाचा पड़ा।

आदिल: आज तेरी कुछ नहीं चलने वाली। चल मेरा लंड चूस रंडी साली।

मैं नीचे बैठ गया, और उसकी चड्डी को ऊपर से नीचे खींच लिया। उसका लंड 8.5 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा था। 

मैं तो देखता ही रह गया। उसने अपने लंड से मेरे मुँह पर दो चार थप्पड़ मारे, और मेरे होठों पर उसको घिसने लगा।

मैंने जैसा ही मुँह खोला, उसने अपना पूरा लंड एक ही झटके में मेरे मुँह के अंदर डाल दिया। पहले ही शॉट मेरे गेल को छू गया।

आदिल: गांडू, समझा क्या कितना अंदर लेना है? चल अब चूसना शुरू कर। और मैं जब तक ना बोलू निकालना मत।

मैंने अपने दोनो हाथ उसकी मुलायम-मुलायम गांड पर रखे, और उसका लंड पूरा गले तक चूसना शुरू किया। 

मैं थक गया तो मैं रुक गया। पर मेरा चूसाव आदिल की हवस को कम नहीं कर पाया।

उसने मेरे बाल पकड़े, और खुद मेरा मुँह चोदना शुरू किया। एक के बाद एक मेरे मुँह में उसका लंड शॉट दे रहा था। फिर कुछ ही देर बाद उसने कहा-

आदिल: सुन चमन, जूस पिएगा?

Call Girls Cheap Rate @₹5K-15K/ Visit Here – Paschim Vihar Escorts

मैंने हाँ में सर हिलाया।

आदिल: अगर एक भी बूँद गिरेगी तो आज तेरी खैर नहीं। चल साले पी ले मेरी रंडी।

ये कहते ही उसकी स्पीड बढ़ गई। उसने मेरे मुँह को कस के पकड़ा, और अपना सारा वीर्य मेरे मुँह में निकाला। 

आधा कम उसने मेरे गले में निकाला, क्योंकि उसका लंड मेरे गले तक सत्ता हुआ था। धीरे से उसने अपना लंड आधा बाहर निकाला।

फिर भी उसके लंड से वीर्य निकल ही रहा था। मैंने आखिर सारा पानी पी लिया, और एक बूंद भी बर्बाद नहीं होने दी। 

फिर मैंने अपने हाथों से उसका लंड पकड़ा और मुँह में लेकर उसका लंड चाट-चाट कर साफ़ कर दिया। मैंने ऐसा किया तो आदिल बहुत खुश हुआ। उसने कहा-

आदिल: रुक जा भोंसड़ी के, आज तो तेरी गांड भी मारूंगा। कल चल भी नहीं पायेगा तू।

मैं अब तक अपने मुँह में आदिल का लंड मेहसूस करके पा रहा था, और इतना मोटा लंड मेरी गांड की क्या हालत करेगा, 

वो सोच कर मेरी तो फटती जा रही थी। फिर कुछ ही देर में रोशनी आ गई। लाइट आते ही हमने कपड़े पहन लिए और लिफ्ट से बाहर आ गए। 

हम फिर अपने कमरे में चले गए। अन्दर जाते ही आदिल ने कहा-

आदिल: चल मादरचोद, खोल के रख अपनी, मैं मूत के आया। ( Padosi Se Gand Chudai )

इतना कह कर वो बाथरूम में चला गया। और मैंने एक-एक करके अपने कपड़े फिर निकाल दिए, और बिस्तर पर नंगा सो गया। 

फिर मैंने अपने दोनो जोड़ियों को फेल कर आदिल का इंतज़ार करने लगा। आदिल ने बाहर आकर मुझे देखा और कहा-

आदिल: हरामी है बे तू। सच में मेरे लिए खोल के बैठा है।

मैं: मैं तेरी बात कैसे टाल सकता हूँ?

आदिल: ठीक है जानेमन, आज जन्नत की सैर करवाता हूँ तुझे। चल मादरचोद, आज दिखा देता हूँ तुझे अपने लंड की ताक़त।

आदिल ने सारे कपड़े उतार दिए, और नंगा हो गया। उसने तेल की शीशी ली, और उसको मेरी गांड पर अपने हाथों से लगाया। 

10-15 मिनट तक उसकी उंगलियां मेरी गांड पर घुमा रहा। फिर उसने अपना लंड मेरी गांड पर लगाया।

मैं बोल पड़ा: आदिल प्लीज धीरे करना। फट जायेगी मेरी. तेरा बहुत बड़ा है.

आदिल: साले रंडी है तू मेरी. तुझे मेरा लेना आज से सीखना पड़ेगा।

ये कह के उसने 3-4 झटकों में अपना लंड मेरी गांड में डाल दिया। फिर मेरी गांड 25-30 मिनट तक मारी। 

कुछ देर बाद वो मेरे ऊपर नंगा ही सो गया। सुबह के 5 बज चुके थे, और अचानक हमारी नींद खुल गई।

उसने मुझे डॉगी बनाया और फिर एक बार उसने अपना लंड मेरी गांड में डाला। आधे घंटे तक मैं उससे चुदता रहा। 

फिर मैं और डॉगी नहीं बन पा रहे थे। मैं वही गिर गया. फिर भी आदिल मेरे ऊपर चढ़ गया।

अब वो मेरे पैर फ़ैला के पीछे से मेरी गांड में लंड डालकर मेरी गांड मारने लगा। कुछ देर बाद मेरी गांड के ऊपर वो झड़ गया। ( Padosi Se Gand Chudai )

आदिल: बहनचोद आज से तू मेरी परिवते रंडी है। ऐसे चोदूंगा जैसे तूने सपनों में नहीं सोचा होगा।

मैं: तेरे लंड का ख्याल मैं रखूंगा. मेरी गांड आज से तेरी हुई. जब और जितनी चाहे मार ले.

फिर मैं बाथरूम जाने के लिए उठ गया, और दो कदम चलते ही गिर गया। मैंने आदिल को देखा और आदिल ने मुझे कहा-

आदिल: मैंने कहा था ना तुझे ऐसे ही पेलूंगा साली रंडी।

फिर उसने मुझे बाथरूम में ले जाकर नहलाया और फिर हम नंगे सो गए।

सुबह नाश्ते के बाद मुझे आदिल का जूस पीना पड़ा। ऐसे ही कई बार मेरी गांड चुदाई हुई। 

कैसी लगी ये Indian Gay Site Com कमेंट में जरूर बताएं।