ये मेरी वर्जिन गांड की चुदाई की कहानी है » Virgin Gand Chudai

ये मेरी वर्जिन गांड की चुदाई की कहानी है » Virgin Gand Chudai

हाय दोस्तो आप कैसे हैं? आशा करता हूं आप सब अच्छे होंगे। ये मेरी Virgin Gand Chudai कहानी है। 

ये बात तब की है जब मैं 18 साल का हो गया था। मुझे पोर्न फिल्म देखना और Hindi Gay Sex Stories पसंद था। 

जब मैंने पोर्न देखा था तो मुझे हमेशा से लड़के के लंड दिखते थे,

और मन करता था कि काश मैं उस लड़की की जगह होता और कोई मुझे ऐसे ही चोदे। 

एक दिन मेरी ये बात सच होने वाली थी। क्योंकि कुछ दिन पहले ही मैं मेरे हॉस्टल में आया था और जो मेरा रूममेट था। 

वो अभी भी गांव से आया नहीं था। इस वजह से मेरे कमरे में अकेलापन था।

शाम को अचानक एक लड़के के कमरे में आया जिसका नाम शायद अमन था। 

अमन ने कहा- भाई सीनियर ने छत पे बुलाया है। 

मैने कहा – क्यू? वो बोला – पता नहीं जल्दी कर. फिर मैं और वो छत पर चले गए, छत पर और भी लड़के थे। 

सीनियर मुझे – क्यों बे कब से भेजा है इसको तुझे बुलाने के लिए, तू आया क्यों नहीं बे! 

मैं- भाई मैं तो उसी टाइम आ गया। सीनियर – अबे अपने बाप को भाई बोलेगा क्या? Virgin Gand Chudai

मैं उसकी तरफ देखता हूं तभी वह एक और सीनियर भागता हुआ आया। क्या बॉडी थी उसकी, एक दम मॉडल के जैसी। 

क्या छाती थी उसकी, साफ मुंडा. अंडर आर्म भी साफ मानो वैक्स किया हो। 

तभी अमित बोला – राहुल नीचे वार्डन राउंड पर आ रहा है। रोहित (जिस सीनियर ने हमें ऊपर भुलाया था) वो बोला – चलो निकालो यहाँ से।

तब सब नीचे की ओर चले गए और मैं अमित की छाती की तरफ ही देख रहा था। तभी मेरी नज़र उसकी निक्कर तरफ़ गई। और निक्कर के उभार से ही मैंने उसके लंड को नापने लगा।

अमित और राहुल भी चले गए और मैं भी उनके पीछे पीछे नीचे आ गया। उस रात मैंने रोहित के बारे में सोचते हुए 3 बार मुट्ठी मारी। 

अगली सुबह उठकर नाश्ता तैयार हुआ और सोचा कि आज मैं भी बाल साफ कर लूं। ये सोचते हुए बाहर मार्केट जाने लगा सामान लेने के लिए। 

तभी कॉरिडोर में रोहित मिला वो नहाया था, उसके बाल गीले थे और वो सिर्फ अंडरवियर में था। 

क्या बॉडी थी उसकी. मैं उसे देखता ही रह गया। बिल्कुल क्लीन शेव्ड जैसी कोई मॉडल हो। 

उसने मुझे उसे देखते हुए देख लिया था। तभी वो बोला अबे क्या देख रहा है इतने ध्यान से? मैं एक दम से हद हो गया। तभी मैंने बोला वो.. वो… वो वो क्या?! Virgin Gand Chudai

रोहित बोला. मैं – बस यही कि मुझे भी बाल साफ करने हैं, लेकिन मुझे नहीं आता कि कभी किया नहीं और सामान लाना है, क्या लाऊ? 

तभी अमित बोला – बस इतना ही, चल मैं बताता हूँ आजा कमरे में। मैं थोड़ा हिचकिचाते हुए कमरे में जाने लगा। उसके कमरे में भी कोई नहीं था। 

वो अपने सामान का बॉक्स लाया, उसमें रेजर क्रीम और ट्रिमर था। अमित बोला ये सब चाहिए और मैं बोला ठीक है लेकिन मुझे डर लग रहा है, कट गया तो?

वो बोला अभी तो नौसिखिया है पर धीरे धीरे आदत हो जाएगी। मुझे भी शुरू में समस्या हुई थी। लेकिन अगर तुम्हें कोई समस्या नहीं है तो मैं तुम्हारी मदद कर दूंगा। 

जैसे मेरे मन की बात उसने बोल दी और मैंने तुरन्त हाँ कर दी। और कहा ठीक है फिर आप मेरी शाम को मदद कर देना। 

उसके ओके कहने पर बाज़ार चला गया और वो सब कुछ ले आया और शाम की प्रतीक्षा करने लगा। शाम के करीब 7 बजे थे तभी कमरे का दरवाजा खुला। 

मैं आया और दरवाजा खोला. सामने रोहित था सफेद गंजी और काली शॉर्ट्स में। 

वो – अन्दर आ जाओ क्या? 

मैं – हाँ ज़रूर. फिर वो अंदर आ गया और मैंने उसे बैठने को कहा और फिर वैसी ही बात करने लगे। Virgin Gand Chudai

कहां से हो क्या कोर्स कर रहे हो आदि। तभी अमित ने बताया कि वह यहां बा करता है और साथ में मॉडलिंग की तैयारी भी। 

इसी के लिए पास वाले जिम में भी जाता है। तभी उसने पूछा कि तुम सामान लाए हो? 

तो मैंने कहा हां और सामान का भीख मांगकर दिखाया और उसने देखा और कहा ठीक है तो शुरू करें? 

मैंने कहा ठीक है. तो उसने कहा कि तुम्हें अपनी शर्ट और पैंट उतारनी होगी, मैंने वैसे ही किया। 

फिर उसने कहा कि देखो अभी तुम्हारे बाल सॉफ्ट हैं तुम्हें ट्रिमर का इस्तेमाल करना चाहिए। 

और उसने ट्रिमर निकाला और मुझे हल्के से छाती पर हाथ रखकर दिखाया। 

जैसे ही उसने मुझे हाथ लगाया मुझे जैसा करंट लगा हो। 

मैंने खुद को कंट्रोल किया. सच में क्या जादू था हममें, उसके शरीर की खूबूबू क्या बात है। तभी उसने कहा अब तुम करो। 

तो मैंने किया और ऐसे करते करते सब बाल हटा दिए। अब बात थी अंडरआर्म की तो उसने अपने हाथ ऊपर किए और कहा कि ऐसे हाथ ऊपर करो। 

और जब आर्म ऊपर थी तो अंडर आर्म क्या साफ था। मन कर रहा था वहीं उसे किस करू। 

फिर उसके कहने पर वैसे ही किया और फिर मैंने उसे जान बुझाकर कहा, 

क्या आप मेरी छाती पर हाथ लगाकर देखेंगे कि सब ठीक है? 

उसने जैसे हाथ रखा, मेरी सांसे तेज हो गई और अचानक उसका हाथ मेरे लंड पर लगा। Virgin Gand Chudai

मेरा लंड तो पहले से ही बेहाल था और वो हल्का सा मुस्कुरा दिया। 

तभी तो वो बोला हाहा ठीक है और कहा कि अब तुम ऐसे हमेशा ऐसे ही कर सकते हो। 

वो थोड़ा सा करीब आया और मुझे देखने लगा। तभी उसने मेरा हाथ पकड़ा और अपनी छाती पर रख दिया। 

और कहा देखो मैंने भी ऐसा ही किया है और हाथ छोड़ दिया। 

मैंने जान भुज कर हाथ छाती पर घुमाया और फिर हाथ हटाने के बहाने नीचे किया। और जान भुज कर साथ में उसके लंड पा लगाया। 

उसका उठाव महसूस हो रहा है। और अचानक उसने मेरे हाथ पर हाथ रखकर लंड पर दबा दिया। मुझे जैसी जन्नत मिल गई हो। 

फिर उसने मुझे देखा, मैंने थोड़ा सा हस दिया और उसने कहा – कैसा लगा? मैंने कुछ नहीं बोला और हाथ थोड़ा दबा दिया। 

उसने धीरे से अपना चेहरा मेरी तरफ बढ़ाया और मुझे हल्का सा किस किया। फिर ये सिलसिला चला और हम एक दूसरे को किस करते रहे। 

उसने मेरी बनियान निकाल दी और मेरे निप्पल दबाने लगा। 

मैंने भी उसके बनियान निकाल दिए और उसके शरीर पर हाथ फेरने लगा। 

तभी उसने मुझे घुटनों के बल बैठने को कहा और मैं बैठ गया। 

फिर उसने मेरे चेहरे को आगे बढ़ाया और अपने लंड को अंडर वियर के ऊपर से मेरे मुंह पर दबाने लगा।

आप पढ़ रहे है :- Hindi X Story Virgin Gand Chudai

Book Call Girls Between 9PM to 6AM Delhi Escorts

मैंने बिना देर किए उसकी शॉर्ट और अंडर वियर पहनी थी। 

उसका लंड एकदम टाइट था और 3 इंच मोटा था और लगभग 8 इंच लम्बा था। 

मैं देख कर खुश हुआ मन ही मन कुढ़ को पोर्न एक्ट्रेस की तरह गांड मरवाता फील कर रहा था। 

तभी अमित ने अपना लंड हाथ में पकड़ा और मेरे मुँह पर रख दिया और अंदर करने लगा। 

क्या मजा था! उसने फिर धीरे से मेरे मुँह में अपना लंड हिलाना शुरू किया। 

धीरे-धीरे फिर अचानक उसने मेरे सिर को पीछे पकड़ा और एक झटके से अंदर किया और उसका लंड मेरे गले तक जा पहुंचा। 

फिर दो पुदीना उसने मुझे ऐसे ही रखा। मेरी आँखों से पानी निकालने लगा और फिर उसने अपना लंड पीछे किया और मेरी साँस आई। 

ऐसे उसने बहुत बार किया. अब मेरे मुँह में दर्द हो रहा था। तभी उसने अपने मुँह में जोर जोर से करने लगा। और आना स्पर्म मेरे मुँह में चोदा दिया। 

उसने मुझे पीने हो कहा. मैंने ना में सर हिलाया तो उसने मुझे एक थप्पड़ मारा और मेरी नाक को हाथ पकड़कर बंद कर दिया और मैं पानी पी गया। 

उसके बाद उसने मेरी चड्डी भी उतार दी और मुझे बिस्तर पर घोड़ी बनने को कहा। मैं बन गया और उसने तभी मेरे चूतड़ो पर हाथ फेरना शुरू किया। Virgin Gand Chudai

फिर एक उंगली मेरी गांड के चारो तरफ घुमाई और फिर अंदर करने लगा। मुझे अब फिर मजा आने लगा और अचानक उसने उंगली अंदर डाल दी। 

पहले एक फिर दो और आगे पीछे करने लगा, मुझे बहुत मजा आने लगा। 

अब उसका लंड फिर से टाइट होने लगेगा और फिर उसने मेरी गांड और अपने लंड पर क्रीम लगाई। 

और हाथ से लंड को मेरी गांड के छेद पर रखा और एक जोर का झटका दिया। जिसका उसका लंड लग भाग 3 इंच मेरी गांड में चला गया। 

मैंने तपड़ उठाया और चिल्ला उठाया लेकिन उसने अपने हाथ से मेरा मुँह दबा दिया। जिसे ना मैं आगे बढ पाया और ना चिल्ला सका। 

वो थोड़ा रुका और धीरे-धीरे आगे बढ़ने लगा। फिर जब मैं थोड़ा रिलैक्स हुआ तो उसने फिर से जोर का झटका दिया और मैं फिर से थप्पड़ उठा।

उसका लंड मेरी गांड में समा चुका था और मेरी आँखों से आँसू निकल रहे थे। 

मैं लंबे दर्द के कारण से कर रहा था आआआआआआआ… प्लीज मुझे चोर दे… मुझे चोर दो दर्द हो रहा है…

फिर उसने धीरे-धीरे शॉट लगाने शुरू किए और साथ ही मेरे लंड को भी हिलाया। 

जिसे मैं भी अब अमित का साथ देने लगा। और फिर तो जैसे मैं जन्नत में था और सिसकियाँ ले रहा था awwwwaww… प्लीज मुझे जोर से चोदो ऐसे ही… Virgin Gand Chudai

उसके बाद उसने मुझे बालों से पकड़ कर जोर दार शॉट्स लगाए। कुछ देर के बाद मुझे महसूस हुआ जैसे कुछ गरम गरम मेरी गांड में गिरा है। 

तभी वो रुका और हट कर साइड में ले गया। जब मैंने उसका लंड देखा तो वो खून और वीर्य से भरा हुआ था।

मुझसे अब अच्छे से चला भी नहीं जा रहा जब मैं खड़ा हुआ। दोस्तो ये थी मेरी पहली चुदाई। 

आपको ये Gay Sex Story Hindi कैसी लगी प्लीज बताइये

One thought on “ये मेरी वर्जिन गांड की चुदाई की कहानी है » Virgin Gand Chudai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *