Soteli Bahan ko dost ne Choda सौतेली बहन को दोस्त ने चोदा

Soteli Bahan ko dost ne Choda सौतेली बहन को दोस्त ने चोदा

इस X Story Hindi में एक लड़का है, जिसका नाम साहिल ग्रोवर है। साहिल की उम्र 20 साल है। उसकी ही जुबानी असली सेक्स स्टोरी सुनिए। ( Soteli Bahan ko dost ne Choda )

हेलो दोस्तों, मैं सोनी हूँ, मैं फिर से आपको एक सेक्स स्टोरी बताने आई हूँ, जिसका नाम है एक लड़के की, जिसने मेरी बहन को एक दोस्त से चुदवाया। Hindi X Stories पसंद करने वाले मेरे प्यारे दोस्तों, मैं एक कहानी लेकर आई हूँ।

दोस्तों, मैं साहिल हूँ… मेरे पापा बहुत बड़े बिजनेसमैन हैं। उनका करोड़ों का बिजनेस है।

इस सिलसिले में वो अक्सर विदेश में रहते हैं। मम्मी भी उनकी पार्टनर हैं। वो दोनों अक्सर अपने बिजनेस के सिलसिले में घर से बाहर रहते थे।

मैं एमबीए कर रही हूँ। मेरी हाइट और बॉडी बहुत मस्त है, जिसकी वजह से कई लड़कियाँ मुझे पसंद करती हैं। मेरी बहन की सहेलियाँ भी मुझे पसंद करती हैं।

अब सबसे पहले मैं आपको अपनी बड़ी बहन के बारे में बता दूँ। मेरी बहन का नाम आशिका ग्रोवर है।

उसकी हाइट 5 फीट 7 इंच है, उसके उभरे हुए स्तन 36 इंच के हैं। उभरी हुई गांड का साइज 38 इंच है।

उसका पेट बिलकुल भी बाहर नहीं निकला हुआ है। वो एक तरह से सेक्स बम है, जो भी उसे देखता था, उसका लंड खड़ा हो जाता था।

मेरा दावा है कि अगर कोई बूढ़ा आदमी भी उसे देख ले, तो मेरा दावा है कि बूढ़े का लंड भी खड़ा हो जाएगा। हालाँकि मैंने अपनी बहन को कभी सेक्स की नज़र से नहीं देखा था।

हमारे घर में कोई पाबंदी नहीं है। कोई भी किसी भी तरह के कपड़े पहन सकता है।

एक बार जब आशिका मेरे साथ शॉपिंग कर रही थी, तो वो ब्रा पैंटी सेक्शन में चली गई।

मुझे देर हो रही थी, इसलिए मैं उसे बुलाने गया। मैंने देखा कि वो बहुत ही हॉट ब्रा पैंटी खरीद रही थी। ये देखकर मैं चौंक गया।

आशिका ने मुझे देखकर बात नहीं छिपाई बल्कि शॉपबॉय से और हॉट पैंटी ब्रा दिखाने को कहने लगी।

सेल्समैन को बताने के बाद वो मेरी तरफ देखकर मुस्कुराया। मैंने कुछ नहीं कहा, बस चुप रहा।

उसने खुशी-खुशी अपने लिए ब्रा पैंटी खरीदी और पैक करवाकर मेरे साथ वापस आ गई।

जब मैं घर आया और खाना खाकर सोने लगा, तो मुझे नींद नहीं आ रही थी। अचानक मुझे आशिका की याद आई, कैसे वो मेरे सामने अपनी ब्रा पैंटी हाथ में लेकर आराम से बैठी थी।

मैं अचानक उसके बड़े बूब्स और चूतड़ों के बारे में सोचने लगा कि इतने मस्त बूब्स और चूतड़ हैं, पता नहीं उसने कितनों से चुदवाया होगा। बस उसकी नंगी जवानी को याद करके मैं मुठ मार कर सो गया।

सुबह नाश्ते की टेबल पर आया तो आशिका सिर्फ़ शॉर्ट्स में थी, जो बहुत पतले कपड़े के थे।

उसमें से उसकी लाल रंग की पैंटी और हरे रंग की ब्रा दिख रही थी।

मैंने उससे बात की- आशिका बहन, आज कॉलेज नहीं जाना है क्या?

आशिका- नहीं भैया… मेरी तबियत ठीक नहीं है, रात को बाथरूम में गिर गई थी, और मेरी कमर में दर्द हो रहा है।

मैं- अरे ये कैसे हुआ दीदी… और तुम अब बता रही हो, पहले क्यों नहीं बताया… बता सकती थी ना… मुझे तुम्हें रात को ही जगाना पड़ा।

आशिका- अरे बाबू… मेरी जान, कोई बात नहीं… मैंने पेन किलर की गोली खा ली थी… अब बस कमर में थोड़ा दर्द है। अगर तुम मेरी मालिश कर दो तो मेहरबानी होगी।

मैं- अरे दीदी, मेहरबानी वाली कौन सी बात है… आओ… मैं अभी कर देता हूँ।

हम दोनों कमरे में आ गए। वो मेरे बिस्तर पर उल्टी लेट गई। मैं उसके चूतड़ों को देखता हुआ उसी घाटी में खो गया।

तभी दीदी ने आवाज़ लगाई- अब शुरू करो मर्दाना!

Hindixstory

जब मैंने दीदी की शॉर्ट्स उतारी तो उनकी लाल पैंटी उनकी गांड में घुस रही थी. ये देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया. जैसे ही मैंने उनकी कमर पर हाथ रखा, तो मानो मैं स्वर्ग में चला गया.

मैंने दीदी की बड़ी गांड को अच्छे से मसाज करना शुरू कर दिया. दीदी भी थोड़ा ‘आह आह्ह आह्ह…’ कर रही थी.

दीदी बोली- तुम्हारे हाथों में जादू है, मेरा दर्द कम हो रहा है… दो-तीन दिन मसाज कर दो, मैं ठीक हो जाऊँगी.

मैंने दीदी की गांड को रोज मसाज करना शुरू कर दिया. तीन दिन में दीदी ठीक हो गई.

पर अब मेरे दिमाग में हमेशा मेरी बहन की गांड घूमती रहती कि मैं कभी अपनी बहन के साथ सेक्स कर पाऊँगा या नहीं.

फिर मैं सोचता कि वो मेरी बहन है. कुछ सामाजिक बंधन मुझे डरा रहे थे, कुछ अंदर से डर भी लग रहा था.

एक दिन मैं कॉलेज में अपने दोस्तों के साथ मस्ती कर रहा था तभी मेरा दोस्त राहुल भारद्वाज मुझसे बात करने लगा. राहुल मेरा कॉलेज का दोस्त था.

उसने कई बार बहुत सी रंडियों को चोदा था. उसके पिता मेरे पिता से 20 गुना अमीर थे. उसके घर से पैसों की कोई कमी नहीं थी.

राहुल ने मुझसे कहा कि आज मैं एक नई रंडी चोदने जा रहा हूँ, मेरी बहन सीलबंद माल है… मैं उसकी चूत ही खोलूँगा. दो लाख में उसके कपड़े उतारने का सौदा हुआ है.

मैं उसकी चूत रात भर चोदूँगा, तुम भी आ जाओ, तुम भी अपना लंड उसके मुँह में डाल दो.

मैंने मना कर दिया… क्योंकि मेरे दिमाग में सिर्फ़ आशिका थी. मैं घर पहुँच गया.

घर आकर मैं आशिका का नाम लेकर सोने लगा. लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी, तो मैंने Best Sex Story Hindi की, Sex Story पढ़ना शुरू किया.

इसमें रिश्तों में सेक्स की कुछ हिंदी सेक्स स्टोरी के लिंक पर क्लिक किया, तो भाई, बहन, बाप और बेटी की सेक्स स्टोरी सामने आई.

मैंने दो सेक्स स्टोरी पढ़ी, तो मज़ा आ गया. फिर मैंने ऑनलाइन सेक्स चैट शुरू की, जिसमें मैं एक लड़की से चैट करने लगा. हम दोनों बहुत खुल कर चैट करने लगे. वो मेरे ही शहर की थी.

उस लड़की से करीब एक हफ़्ते तक सेक्स चैट करने के बाद मैंने उससे मिलने के लिए कहा ताकि हम सेक्स करें. लेकिन उसने मना कर दिया. बहुत मिन्नतों के बाद वो मुझसे मिलने के लिए तैयार हो गई.

मैंने पूछा कि हम एक दूसरे को कैसे पहचानेंगे.

उसने कहा कि मैं काली टी-शर्ट पहनकर आऊँगा. तुम भी काली टी-शर्ट पहनकर आना.

मैंने कहा ठीक है.

मुलाकात की जगह पर हमने गुलाब के बगीचे का वो हिस्सा रखा था, जो पहले कोई नहीं करता था. मैं सुबह बगीचे में जाकर बैठ गया. मैं उससे फ़ोन पर चैट कर रहा था, अचानक पीछे से किसी ने

मेरे कंधे पर हाथ रखते हुए कहा- सर, आप आ गए.

जैसे ही मैंने पीछे देखा तो मेरे तोते उड़ गए. क्योंकि वो मेरी सगी बहन आशिका थी.

आशिका भी मुझे देखकर हैरान हो गई. हमने दो-तीन मिनट तक एक दूसरे से बात नहीं की.

फिर मैंने बात शुरू की- बहन, तुम ऐसी साइट पर सेक्स स्टोरी पढ़ती हो… शर्म नहीं आती तुम्हें… रात भर सेक्स चैट करती हो.

आशिका- तो तुम भी रात भर सेक्स चैट करते हो… रात को मेरी वर्जिन चूत चाटने की बात कैसे कर रहे थे? तुम तो कह रहे थे कि अपना 9 इंच का लंड मेरी चूत में डालोगे, रात भर चोदोगे और गांड भी मारोगे.

ये सब कुदरत की देन है। इसमें न तो तुम्हारा दोष है और न ही मेरा। भाई ये तो कुदरती क्रिया है। मुझे भी पोर्न मूवीज देखकर चुदने का मन करता है। आज तो मेरा मन और भी ज्यादा कर रहा है। पर तुम तो हो।

जब मैंने उसे चूत लंड चुदाई के बारे में खुल कर बात करते देखा तो मैंने कहा- तो फिर हम आपस में सेक्स क्यों नहीं करते?

पर आशिका ने साफ मना कर दिया और बोली- भाई बहन के बीच ये सब नहीं हो सकता। हां, हम खुल कर बात कर सकते हैं। (बहन दोस्त से चुदी)

मैंने पूछा- तूने अब तक कितने लड़कों से चुदवाई है?

आशिका बोली- मैं अभी भी कुंवारी हूँ। मैंने आज तक कभी सेक्स नहीं किया, पर मेरा मन बहुत करता है। पर मैं अपने भाई के साथ नहीं कर सकती।

फिर मेरे मन में ख्याल आया कि क्यों न मैं आशिका को राहुल से चुदवाऊँ और उसकी कुंवारी चूत के बदले उससे पैसे भी वसूलूँ। वैसे भी पापा ने स्पोर्ट्स बाइक लेने से मना कर दिया और कहा कि खुद कमाओ और चाहो तो जहाज खरीद लो।

वहाँ से हम दोनों घर लौट आए।

Untitled design 3 1

मैं दीदी के कमरे में गया और दीदी से बड़े प्यार से कहा- दीदी, मेरे पास एक तरीका है… जिससे आपकी चूत को चुदाई का मज़ा भी आएगा और हम पैसे भी कमा सकते हैं।

आशिका बोली- कैसे?

मैंने जब उसे राहुल के बारे में बताया तो दीदी ने पूछा- कोई जोखिम तो नहीं होगा?

अब मैंने बस किसी तरह दीदी को राहुल को चोदने के लिए मना लिया।

अगले दिन कॉलेज जाने के बाद मैं जानबूझकर राहुल के सामने दीदी की तस्वीर देख रहा था।

राहुल ने आशिका की तस्वीर देखते ही कहा- वाह क्या लड़की है यार… इतनी पटाखा लड़की मैंने आज तक नहीं देखी… कौन है ये?

मैंने कहा- टॉप मॉडल है।

राहुल बोला- इसे मंगवा लो, मैं तुम्हें भी खुश कर दूँगा।

मैंने कहा- पाँच लाख रुपए लगेंगे क्योंकि ये वर्जिन है।

उसने कहा- कोई बात नहीं यार… बस इसकी वर्जिन चूत दिलवा दो।

मैंने हामी भर दी।

घर वापस आकर मैंने अपनी दीदी से कहा।

दीदी बोली- मैं होटल नहीं जाऊँगी, वहाँ सबको पता चल जाएगा कि मैं कॉल गर्ल हूँ, तुम उसे घर पर बुला लो.

मैंने कहा- ठीक है पर उसे पता नहीं चलना चाहिए कि हम दोनों भाई-बहन हैं.

आशिका बोली- टेंशन मत लो… मैं सब संभाल लूँगी.

मैंने राहुल से पैसे लिए और अपने घर ले आया. राहुल ने पूछा कि हम कहाँ जा रहे हैं.

मैंने कहा- तुम बस आओ… मैंने उसे अपने घर बुलाया है.

हम दोनों घर आ गए. मैंने दीदी को मिस कॉल दी तो दीदी ऊपर वाले कमरे से नीचे आ गई.

इस समय उसने बहुत ही सेक्सी ड्रेस पहनी हुई थी. क्या बताऊँ, उसे देखकर मेरा लंड भी खड़ा हो गया.

राहुल ने आशिका को गले लगाया और उसके होंठों पर किस किया.

दीदी ने मुस्कुराते हुए मेरी तरफ आँख मारी. उसने राहुल से कहा- तुम कमरे में चलो, मैं अभी आती हूँ.

राहुल कमरे में चला गया.

आशिका ने मेरे कान में कहा- आज तुम्हारी 22 साल की बहन की चुदाई होने वाली है, चूत की सील टूटने वाली है, मेरी चुदाई देखो और मजा लो.

यह कहकर आशिका कमरे के अंदर चली गई।

जैसे ही आशिका कमरे में आई, उसने उसे झटके से पीछे से पकड़ लिया और उसके होंठों को जोर से चूसने लगा. वो दीदी के स्तन दबाने लगा. कभी वो दीदी के चूतड़ दबाता और चूमता.

उसकी हरकतों की वजह से मेरा लंड पूरे जोश में आ गया था. उसने आशिका की टी-शर्ट और जींस उतार दी. साथ ही उसने आशिका दीदी की बहुत सेक्सी दिखने वाली पैंटी भी फाड़ दी. दीदी की बिना बालों वाली चिकनी चूत उसके सामने आ गई थी. वो दीदी की चूत चूसने लगा.

वो पूरी तरह से पागल हो चुका था. कभी वो दीदी की चूत में जीभ डालता, कभी उसकी चूत के दाने को चाटता. मैंने देखा कि कुछ ही देर में आशिका की चूत पूरी तरह से लाल हो गई थी.

फिर राहुल ने अपना लंड आशिका के हाथ में पकड़ा दिया और उसे चूसने को कहा और उसे खड़ा कर दिया.

आशिका ने लंड चूसने से मना कर दिया, तो उसने आशिका के मुंह पर थप्पड़ मार दिया. मुझे बहुत गुस्सा आया, लेकिन अब उन्होंने पैसे ले लिए थे, तो क्या कर सकते थे, आशिका को राहुल का लंड चूसना ही था. लेकिन दो मिनट बाद मुझे लगा कि आशिका खुद ही राहुल का लंड बड़े मजे से चूस रही है. वो लंड को अपने गले तक लेने लगी.

राहुल भी लंड चूसने का मजा ले रहा था, वो आशिका के बाल पकड़ कर मुख मैथुन में लगा हुआ था.

थोड़ी देर बाद राहुल ने अपना 7 इंच का लंड आशिका की चूत के होंठों पर रखा और धक्का दिया.

उसका दो इंच का लंड आशिका की चूत में चला गया, जिससे आशिका बहुत तेज आवाज में चीख पड़ी- ऊऊ फुक्कक्कक्कक्क्क… मुझे बचाओ उम्माह… आह… हाय… ओह…

उसकी आंखों में आंसू थे.

फिर राहुल ने एक और झटका मारा, तो उसका आधा लंड चूत में चला गया.

लंड के हिलने से आशिका बेहोश हो गई. राहुल भी डर गया और उसने लंड के साथ ही रहना सही समझा. वहीं, पास की टेबल पर पानी का गिलास रखा हुआ था. राहुल आशिका के चेहरे पर पानी के छींटे मारने लगा.

थोड़ी देर बाद आशिका को होश आया, तो राहुल ने फिर से शुरू कर दिया. कुछ देर बाद आशिका का दर्द बंद हो गया.

राहुल आधे घंटे तक आशिका को चोदता रहा. अब आशिका को मज़ा आने लगा था. एक बार वो झड़ गई तो उसकी चूत में चिकनाई आ गई. इस वजह से राहुल का लंड आशिका की चूत में बहुत तेज़ी से अंदर बाहर हो रहा था.

थोड़ी देर बाद आशिका की बहन राहुल के ऊपर आ गई. इससे साफ़ पता चल रहा था कि अब उसे भी बहुत मज़ा आ रहा था. उसने राहुल का लंड चाटा

तो वो नीचे बैठ गई. राहुल ने नीचे से अपनी कमर उठाई और अपना पूरा लंड आशिका की चूत में पेल दिया.

थोड़ी देर बाद आशिका राहुल के लंड पर कूद पड़ी और चुदने लगी. पीछे से आशिका की उछलती हुई गांड मुझे बहुत मस्त लग रही थी.

एक घंटे तक दो बार बहन की चूत चोदने के बाद राहुल अपने कपड़े पहन कर चला गया. पर आशिका की चूत लाल हो गई. मेरी बहन की चुदाई जोरदार हो गई थी.

आशिका से उठा भी नहीं जा रहा था. मैं गया और उसे उठा कर बाथरूम में ले गया. बाथरूम में ले जाकर मैंने उसकी चूत साफ़ की और तेल लगाया. फिर उसे कमरे में लाकर मैंने उसे एक पेनकिलर दी ताकि उसे ज़्यादा दर्द न हो।

आशिका ने मुझे गले लगाया और बोली- थैंक्स भाई… मुझे लड़की से औरत बनाने के लिए।

मैंने कहा- ठीक है।

वो कहने लगी- मुझे राहुल को किस करके मज़ा आया। आज की पूरी कमाई तुम्हारी है। तुम सारे पैसे रख लो

मैंने एक बार फिर उसकी आँखों में देखा तो वो मेरी बात समझ गई।

वो बोली- फिर भी मुझे अपने भाई को किस करने में कुछ ग़लत नहीं लगता।

मैंने कहा- इंतज़ार करने से सब ग़लत सही हो जाता है। मैं इंतज़ार करूँगा

बहन ने मुझे गले लगाया। (बहन की दोस्त से चुदाई)

फिर मैंने कहा- अगर तुम्हें दूसरा लंड लेना है तो बोलूँ?

आशिका हँसी और बोली- एक-दो दिन बाद बताऊँगी।

मेरी सौतेली बहन को दोस्त ने चोदा । हिंदी सेक्स कहानियाँ

हेलो दोस्तों, मैं पिया कपूर हूँ, मैं फिर से आपको एक सेक्स स्टोरी बताने आई हूँ, जिसका नाम है एक लड़के की, जिसने मेरी बहन को एक दोस्त से चुदवाया।

Hindi x story सेक्स स्टोरी पसंद करने वाले मेरे प्यारे दोस्तों, मैं एक कहानी लेकर आई हूँ।

इस हिंदी सेक्स स्टोरी में एक लड़का है, जिसका नाम साहिल ग्रोवर है। साहिल की उम्र 20 साल है। उसकी ही जुबानी असली सेक्स स्टोरी सुनिए।

दोस्तों, मैं साहिल हूँ… मेरे पापा बहुत बड़े बिजनेसमैन हैं। उनका करोड़ों का बिजनेस है।

इस सिलसिले में वो अक्सर विदेश में रहते हैं। मम्मी भी उनकी पार्टनर हैं। वो दोनों अक्सर अपने बिजनेस के सिलसिले में घर से बाहर रहते थे।

मैं एमबीए कर रही हूँ। मेरी हाइट और बॉडी बहुत मस्त है, जिसकी वजह से कई लड़कियाँ मुझे पसंद करती हैं। मेरी बहन की सहेलियाँ भी मुझे पसंद करती हैं।

अब सबसे पहले मैं आपको अपनी बड़ी बहन के बारे में बता दूँ। मेरी बहन का नाम SONI ग्रोवर है। उसकी हाइट 5 फीट 7 इंच है, उसके उभरे हुए स्तन 36 इंच के हैं। उभरी हुई गांड का साइज 38 इंच है।

उसका पेट बिलकुल भी बाहर नहीं निकला हुआ है। वो एक तरह से सेक्स बम है, जो भी उसे देखता था, उसका लंड खड़ा हो जाता था।

मेरा दावा है कि अगर कोई बूढ़ा आदमी भी उसे देख ले, तो मेरा दावा है कि बूढ़े का लंड भी खड़ा हो जाएगा। हालाँकि मैंने अपनी बहन को कभी सेक्स की नज़र से नहीं देखा था।

हमारे घर में कोई पाबंदी नहीं है। कोई भी किसी भी तरह के कपड़े पहन सकता है।

एक बार जब SONI मेरे साथ शॉपिंग कर रही थी, तो वो ब्रा पैंटी सेक्शन में चली गई। मुझे देर हो रही थी, इसलिए मैं उसे बुलाने गया। मैंने देखा कि वो बहुत ही हॉट ब्रा पैंटी खरीद रही थी। ये देखकर मैं चौंक गया।

SONI ने मुझे देखकर बात नहीं छिपाई बल्कि शॉपबॉय से और हॉट पैंटी ब्रा दिखाने को कहने लगी।

सेल्समैन को बताने के बाद वो मेरी तरफ देखकर मुस्कुराया। मैंने कुछ नहीं कहा, बस चुप रहा। उसने खुशी-खुशी अपने लिए ब्रा पैंटी खरीदी और पैक करवाकर मेरे साथ वापस आ गई।

जब मैं घर आया और खाना खाकर सोने लगा, तो मुझे नींद नहीं आ रही थी। अचानक मुझे SONI की याद आई, कैसे वो मेरे सामने अपनी ब्रा पैंटी हाथ में लेकर आराम से बैठी थी।

मैं अचानक उसके बड़े बूब्स और चूतड़ों के बारे में सोचने लगा कि इतने मस्त बूब्स और चूतड़ हैं, पता नहीं उसने कितनों से चुदवाया होगा। बस उसकी नंगी जवानी को याद करके मैं मुठ मार कर सो गया।

सुबह नाश्ते की टेबल पर आया तो SONI सिर्फ़ शॉर्ट्स में थी, जो बहुत पतले कपड़े के थे। उसमें से उसकी लाल रंग की पैंटी और हरे रंग की ब्रा दिख रही थी।

मैंने उससे बात की- SONI बहन, आज कॉलेज नहीं जाना है क्या?

SONI- नहीं भैया… मेरी तबियत ठीक नहीं है, रात को बाथरूम में गिर गई थी, और मेरी कमर में दर्द हो रहा है।

मैं- अरे ये कैसे हुआ दीदी… और तुम अब बता रही हो, पहले क्यों नहीं बताया… बता सकती थी ना… मुझे तुम्हें रात को ही जगाना पड़ा।

SONI- अरे बाबू… मेरी जान, कोई बात नहीं… मैंने पेन किलर की गोली खा ली थी… अब बस कमर में थोड़ा दर्द है। अगर तुम मेरी मालिश कर दो तो मेहरबानी होगी।

मैं- अरे दीदी, मेहरबानी वाली कौन सी बात है… आओ… मैं अभी कर देता हूँ।

हम दोनों कमरे में आ गए। वो मेरे बिस्तर पर उल्टी लेट गई। मैं उसके चूतड़ों को देखता हुआ उसी घाटी में खो गया।

तभी दीदी ने आवाज़ लगाई- अब शुरू करो मर्दाना!

जब मैंने दीदी की शॉर्ट्स उतारी तो उनकी लाल पैंटी उनकी गांड में घुस रही थी. ये देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया. जैसे ही मैंने उनकी कमर पर हाथ रखा, तो मानो मैं स्वर्ग में चला गया.

मैंने दीदी की बड़ी गांड को अच्छे से मसाज करना शुरू कर दिया. दीदी भी थोड़ा ‘आह आह्ह आह्ह…’ कर रही थी.

दीदी बोली- तुम्हारे हाथों में जादू है, मेरा दर्द कम हो रहा है… दो-तीन दिन मसाज कर दो, मैं ठीक हो जाऊँगी.

मैंने दीदी की गांड को रोज मसाज करना शुरू कर दिया. तीन दिन में दीदी ठीक हो गई. पर अब मेरे दिमाग में हमेशा मेरी बहन की गांड घूमती रहती कि मैं कभी अपनी बहन के साथ सेक्स कर पाऊँगा या नहीं. फिर मैं सोचता कि वो मेरी बहन है. कुछ सामाजिक बंधन मुझे डरा रहे थे, कुछ अंदर से डर भी लग रहा था.

एक दिन मैं कॉलेज में अपने दोस्तों के साथ मस्ती कर रहा था तभी मेरा दोस्त राहुल भारद्वाज मुझसे बात करने लगा. राहुल मेरा कॉलेज का दोस्त था.

उसने कई बार बहुत सी रंडियों को चोदा था. उसके पिता मेरे पिता से 20 गुना अमीर थे. उसके घर से पैसों की कोई कमी नहीं थी.

राहुल ने मुझसे कहा कि आज मैं एक नई रंडी चोदने जा रहा हूँ, मेरी बहन सीलबंद माल है… मैं उसकी चूत ही खोलूँगा. दो लाख में उसके कपड़े उतारने का सौदा हुआ है.

मैं उसकी चूत रात भर चोदूँगा, तुम भी आ जाओ, तुम भी अपना लंड उसके मुँह में डाल दो.

मैंने मना कर दिया… क्योंकि मेरे दिमाग में सिर्फ़ SONI थी. मैं घर पहुँच गया.

घर आकर मैं SONI का नाम लेकर सोने लगा. लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी, तो मैंने Hindixstory की, Sex Story पढ़ना शुरू किया.

इसमें रिश्तों में सेक्स की कुछ हिंदी सेक्स स्टोरी के लिंक पर क्लिक किया, तो भाई, बहन, बाप और बेटी की सेक्स स्टोरी सामने आई.

मैंने दो सेक्स स्टोरी पढ़ी, तो मज़ा आ गया. फिर मैंने ऑनलाइन सेक्स चैट शुरू की, जिसमें मैं एक लड़की से चैट करने लगा. हम दोनों बहुत खुल कर चैट करने लगे. वो मेरे ही शहर की थी.

उस लड़की से करीब एक हफ़्ते तक सेक्स चैट करने के बाद मैंने उससे मिलने के लिए कहा ताकि हम सेक्स करें. लेकिन उसने मना कर दिया. बहुत मिन्नतों के बाद वो मुझसे मिलने के लिए तैयार हो गई.

मैंने पूछा कि हम एक दूसरे को कैसे पहचानेंगे.

उसने कहा कि मैं काली टी-शर्ट पहनकर आऊँगा. तुम भी काली टी-शर्ट पहनकर आना.

मैंने कहा ठीक है.

मुलाकात की जगह पर हमने गुलाब के बगीचे का वो हिस्सा रखा था, जो पहले कोई नहीं करता था. मैं सुबह बगीचे में जाकर बैठ गया. मैं उससे फ़ोन पर चैट कर रहा था, अचानक पीछे से किसी ने

मेरे कंधे पर हाथ रखते हुए कहा- सर, आप आ गए.

जैसे ही मैंने पीछे देखा तो मेरे तोते उड़ गए. क्योंकि वो मेरी सगी बहन SONI थी.

SONI भी मुझे देखकर हैरान हो गई. हमने दो-तीन मिनट तक एक दूसरे से बात नहीं की.

फिर मैंने बात शुरू की- बहन, तुम ऐसी साइट पर सेक्स स्टोरी पढ़ती हो… शर्म नहीं आती तुम्हें… रात भर सेक्स चैट करती हो.

SONI- तो तुम भी रात भर सेक्स चैट करते हो… रात को मेरी वर्जिन चूत चाटने की बात कैसे कर रहे थे?

तुम तो कह रहे थे कि अपना 9 इंच का लंड मेरी चूत में डालोगे, रात भर चोदोगे और गांड भी मारोगे.

ये सब कुदरत की देन है। इसमें न तो तुम्हारा दोष है और न ही मेरा। भाई ये तो कुदरती क्रिया है। मुझे भी पोर्न मूवीज देखकर चुदने का मन करता है। आज तो मेरा मन और भी ज्यादा कर रहा है। पर तुम तो हो।

जब मैंने उसे चूत लंड चुदाई के बारे में खुल कर बात करते देखा तो मैंने कहा- तो फिर हम आपस में सेक्स क्यों नहीं करते?

पर SONI ने साफ मना कर दिया और बोली- भाई बहन के बीच ये सब नहीं हो सकता। हां, हम खुल कर बात कर सकते हैं। (बहन दोस्त से चुदी)

मैंने पूछा- तूने अब तक कितने लड़कों से चुदवाई है?

SONI बोली- मैं अभी भी कुंवारी हूँ। मैंने आज तक कभी सेक्स नहीं किया, पर मेरा मन बहुत करता है। पर मैं अपने भाई के साथ नहीं कर सकती।

फिर मेरे मन में ख्याल आया कि क्यों न मैं SONI को राहुल से चुदवाऊँ और उसकी कुंवारी चूत के बदले उससे पैसे भी वसूलूँ। वैसे भी पापा ने स्पोर्ट्स बाइक लेने से मना कर दिया और कहा कि खुद कमाओ और चाहो तो जहाज खरीद लो।

मैं दीदी के कमरे में गया और दीदी से बड़े प्यार से कहा- दीदी, मेरे पास एक तरीका है… जिससे आपकी चूत को चुदाई का मज़ा भी आएगा और हम पैसे भी कमा सकते हैं।

SONI बोली- कैसे?

मैंने जब उसे राहुल के बारे में बताया तो दीदी ने पूछा- कोई जोखिम तो नहीं होगा?

अब मैंने बस किसी तरह दीदी को राहुल को चोदने के लिए मना लिया।

अगले दिन कॉलेज जाने के बाद मैं जानबूझकर राहुल के सामने दीदी की तस्वीर देख रहा था।

राहुल ने SONI की तस्वीर देखते ही कहा- वाह क्या लड़की है यार… इतनी पटाखा लड़की मैंने आज तक नहीं देखी… कौन है ये?

मैंने कहा- टॉप मॉडल है।

राहुल बोला- इसे मंगवा लो, मैं तुम्हें भी खुश कर दूँगा।

मैंने कहा- पाँच लाख रुपए लगेंगे क्योंकि ये वर्जिन है।

उसने कहा- कोई बात नहीं यार… बस इसकी वर्जिन चूत दिलवा दो।

मैंने हामी भर दी।

घर वापस आकर मैंने अपनी दीदी से कहा।

दीदी बोली- मैं होटल नहीं जाऊँगी, वहाँ सबको पता चल जाएगा कि मैं कॉल गर्ल हूँ, तुम उसे घर पर बुला लो.

मैंने कहा- ठीक है पर उसे पता नहीं चलना चाहिए कि हम दोनों भाई-बहन हैं.

SONI बोली- टेंशन मत लो… मैं सब संभाल लूँगी.

मैंने राहुल से पैसे लिए और अपने घर ले आया. राहुल ने पूछा कि हम कहाँ जा रहे हैं.

मैंने कहा- तुम बस आओ… मैंने उसे अपने घर बुलाया है.

हम दोनों घर आ गए. मैंने दीदी को मिस कॉल दी तो दीदी ऊपर वाले कमरे से नीचे आ गई.

इस समय उसने बहुत ही सेक्सी ड्रेस पहनी हुई थी. क्या बताऊँ, उसे देखकर मेरा लंड भी खड़ा हो गया.

राहुल ने SONI को गले लगाया और उसके होंठों पर किस किया.

दीदी ने मुस्कुराते हुए मेरी तरफ आँख मारी. उसने राहुल से कहा- तुम कमरे में चलो, मैं अभी आती हूँ.

राहुल कमरे में चला गया.

SONI ने मेरे कान में कहा- आज तुम्हारी 22 साल की बहन की चुदाई होने वाली है, चूत की सील टूटने वाली है, मेरी चुदाई देखो और मजा लो.

यह कहकर SONI कमरे के अंदर चली गई।

जैसे ही SONI कमरे में आई, उसने उसे झटके से पीछे से पकड़ लिया और उसके होंठों को जोर से चूसने लगा. वो दीदी के स्तन दबाने लगा. कभी वो दीदी के चूतड़ दबाता और चूमता.

उसकी हरकतों की वजह से मेरा लंड पूरे जोश में आ गया था. उसने SONI की टी-शर्ट और जींस उतार दी.

साथ ही उसने SONI दीदी की बहुत सेक्सी दिखने वाली पैंटी भी फाड़ दी. दीदी की बिना बालों वाली चिकनी चूत उसके सामने आ गई थी. वो दीदी की चूत चूसने लगा.

वो पूरी तरह से पागल हो चुका था. कभी वो दीदी की चूत में जीभ डालता, कभी उसकी चूत के दाने को चाटता. मैंने देखा कि कुछ ही देर में SONI की चूत पूरी तरह से लाल हो गई थी.

फिर राहुल ने अपना लंड SONI के हाथ में पकड़ा दिया और उसे चूसने को कहा और उसे खड़ा कर दिया.

SONI ने लंड चूसने से मना कर दिया, तो उसने SONI के मुंह पर थप्पड़ मार दिया. मुझे बहुत गुस्सा आया, लेकिन अब उन्होंने पैसे ले लिए थे, तो क्या कर सकते थे,

SONI को राहुल का लंड चूसना ही था. लेकिन दो मिनट बाद मुझे लगा कि SONI खुद ही राहुल का लंड बड़े मजे से चूस रही है. वो लंड को अपने गले तक लेने लगी.

राहुल भी लंड चूसने का मजा ले रहा था, वो SONI के बाल पकड़ कर मुख मैथुन में लगा हुआ था.

थोड़ी देर बाद राहुल ने अपना 7 इंच का लंड SONI की चूत के होंठों पर रखा और धक्का दिया.

उसका दो इंच का लंड SONI की चूत में चला गया, जिससे SONI बहुत तेज आवाज में चीख पड़ी- ऊऊ फुक्कक्कक्कक्क्क… मुझे बचाओ उम्माह… आह… हाय… ओह…

उसकी आंखों में आंसू थे.

फिर राहुल ने एक और झटका मारा, तो उसका आधा लंड चूत में चला गया.

लंड के हिलने से SONI बेहोश हो गई. राहुल भी डर गया और उसने लंड के साथ ही रहना सही समझा. वहीं, पास की टेबल पर पानी का गिलास रखा हुआ था. राहुल SONI के चेहरे पर पानी के छींटे मारने लगा.

थोड़ी देर बाद SONI को होश आया, तो राहुल ने फिर से शुरू कर दिया. कुछ देर बाद SONI का दर्द बंद हो गया.

राहुल आधे घंटे तक SONI को चोदता रहा. अब SONI को मज़ा आने लगा था. एक बार वो झड़ गई तो उसकी चूत में चिकनाई आ गई. इस वजह से राहुल का लंड SONI की चूत में बहुत तेज़ी से अंदर बाहर हो रहा था.

थोड़ी देर बाद SONI की बहन राहुल के ऊपर आ गई. इससे साफ़ पता चल रहा था कि अब उसे भी बहुत मज़ा आ रहा था. उसने राहुल का लंड चाटा

तो वो नीचे बैठ गई. राहुल ने नीचे से अपनी कमर उठाई और अपना पूरा लंड SONI की चूत में पेल दिया.

थोड़ी देर बाद SONI राहुल के लंड पर कूद पड़ी और चुदने लगी. पीछे से SONI की उछलती हुई गांड मुझे बहुत मस्त लग रही थी.

एक घंटे तक दो बार बहन की चूत चोदने के बाद राहुल अपने कपड़े पहन कर चला गया. पर SONI की चूत लाल हो गई. मेरी बहन की चुदाई जोरदार हो गई थी.

SONI से उठा भी नहीं जा रहा था. मैं गया और उसे उठा कर बाथरूम में ले गया. बाथरूम में ले जाकर मैंने उसकी चूत साफ़ की और तेल लगाया. फिर उसे कमरे में लाकर मैंने उसे एक पेनकिलर दी ताकि उसे ज़्यादा दर्द न हो।

SONI ने मुझे गले लगाया और बोली- थैंक्स भाई… मुझे लड़की से औरत बनाने के लिए।

मैंने कहा- ठीक है।

वो कहने लगी- मुझे राहुल को किस करके मज़ा आया। आज की पूरी कमाई तुम्हारी है। तुम सारे पैसे रख लो

मैंने एक बार फिर उसकी आँखों में देखा तो वो मेरी बात समझ गई।

वो बोली- फिर भी मुझे अपने भाई को किस करने में कुछ ग़लत नहीं लगता।

मैंने कहा- इंतज़ार करने से सब ग़लत सही हो जाता है। मैं इंतज़ार करूँगा

बहन ने मुझे गले लगाया। (बहन की दोस्त से चुदाई)

फिर मैंने कहा- अगर तुम्हें दूसरा लंड लेना है तो बोलूँ?

SONI हँसी और बोली- एक-दो दिन बाद बताऊँगी।

नमस्ते मेरे दोस्तों मेरा नाम सोनी राइ है।  अगर आप सभी को हमारी Bhabhi ki Chudai Ki Story अछि लगी है तो आप हमे Comments मे बता सकते है। आगे आप को हमारी Daily Post की Update चाइये होतो आप हमे Twitter पर Follow कर सकते ह।